Wednesday, July 24th, 2024

मोहर्रम का महीना शुरू हो चुका है, जुलूस में हथियार ना लहराने की सीएम योगी की अपील का मुस्लिम जमात ने किया स्वागत

बरेली
ऑल इंडिया मुस्लिम जमात के राष्ट्रीय अध्यक्ष मौलाना मुफ्ती शहाबुद्दीन रजवी बरेलवी ने मोहर्रम के मौके पर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के आदेश का स्वागत किया है। दरअसल, सीएम योगी ने मोहर्रम के मौके पर अस्त्र रहित जुलूस निकालने का आह्वान किया था। इसी पर अब मौलाना मुफ्ती शहाबुद्दीन रजवी की प्रतिक्रिया सामने आई है।

उन्होंने कहा कि मोहर्रम का महीना शुरू हो चुका है। यह इस्लामिक साल का पहला महीना है। मैं सभी मुस्लिम भाइयों-बहनों को नए साल की शुभकामाएं देता हूं। मैं मोहर्रम के मौके पर जुलूस निकालने वाले लोगों से अपील करता हूं कि वो लोग असलहे का उपयोग ना करें। इस्लाम हमें शांति का पैगाम देता है। अल्लाह ने पूरी दुनिया को शांति का पैगाम दिया है। अगर आप में से कोई भी अपने जुलूस में असलहा का इस्तेमाल करेगा, तो इससे हिंसा की तस्वीर लोगों के बीच में पेश होगी। इसलिए मैं आप लोगों से अपील करता हूं कि ऐसा करने से बचें। ऐसा करने से कट्टरपंथी सोच उभरकर सामने आती है। हमें ऐसा करने से बचना चाहिए। हम सभी को इस्लाम की मंशा को समझना होगा। पैगंबर के पैगाम को आप लोग समझिए और हथियार का प्रदर्शन आप लोग कहीं पर किसी भी जुलूस में ना करें।

उन्होंने आगे कहा कि उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ ने जो फरमान जारी किया है, मैं उसका समर्थन करता हूं। उन्होंने बिल्कुल सही आदेश दिया है। यह आदेश उनका अधिकार है और इस्लाम भी हमें अमन और शांति कायम करने के लिए कहता है कि हथियार का प्रदर्शन ना किया जाए। किसी पर शक ना किया जाए। किसी भी व्यक्ति को कोई काम करने के लिए बाध्य ना किया जाए। इस्लाम एक प्रकार से हमें जीवन जीने का संस्कार सिखाता है। प्यार मोहब्बत के साथ अल्लाह का पैगाम पूरी दुनिया में फैलाया जाए।

बता दें कि इसी महीने कांवड़ यात्रा और मोहर्रम भी है। इसको लेकर यूपी प्रशासन अलर्ट मोड पर है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने ऐसे में जुलूस और यात्रा में किसी तरह के हथियार के प्रदर्शन पर रोक लगा दी है।

Source : Agency

आपकी राय

15 + 3 =

पाठको की राय